Google Adsense Optimization Kaise Kare – Best 15 Tips

Google Adsense Optimization Kaise Kare? ज़्यादातर bloggers अपने ब्लॉग पर Google Adsense का use करते है। Google Adsense ब्लॉगिंग से पैसे कमाने के सबसे बढ़िया तरीको मे से एक माना जाता है। लेकिन काफी लोगो की शिकायत होती है की उन्हे Adsense से कोई खास कमाई नहीं हो रही है।

Google Adsense Optimization Kaise Kare - Full Guide in Hindi

ऐसे बहुत सारे bloggers है जिनके पास काफी अच्छी ट्रेफिक है लेकिन फिर भी उनकी online earning नहीं हो रही है। ऐसा इसलिए होता है because उनकी site पर Google Adsense Ads Optimize नहीं किया गया होता है।

Website या ब्लॉग पर सिर्फ Google Adsense Approve होने के बाद सिर्फ Ad unit placement करना ही काफी नहीं होता। Good revenue के लिए adsense optimizing (adsense ads optimize), adsense ad optimization and Google ad placement optimizing करना भी होता है।

YOU MAY LIKE

Benefits of Google Adsense Optimization

Google Adsense Ads Optimize in Hindi करना किसी भी ब्लॉग के लिए बहुत ज़रूरी है क्योकि इससे earning improvement के साथ-साथ website का user interface भी काफी improve होता है जो काफी ज्यादा important है। Google Adsense Ads को optimize करने के बहुत सारे benifits है जिसमे सबसे खास है की

Google Adsense के ads optimize करने से CPC(Cost per Click) मे इजाफा होगा। CPC ज्यादा होने से revenue मे बढ़ोतरी होगी ही। India मे US जैसी countries के मुक़ाबले CPS काफी कम है। ऐसे मे high CPC वाले ads के show होने के आपकी adsense अर्निंग मे काफी improvement होगा।

Google Adsense Optimization Tips Beginner Guide in Hindi

1. Auto Ads

काफी सारे bloggers अपने ब्लॉग पर Google Adsense Auto Ads का use करते है। लेकिन मेरी पर्सनल सलाह है की आप Auto Ads का use ना करके Ad Unit को manually लगाए।

2. Responsive Ad Unit

Adsense 72090, 300250, 33628. 160600 और 320*100 size की ad यूनिट प्रोवाइड कराता है जिसे आप अपने blog की design के अनुसार उसे कर सकते है। लेकिन आप इसके बजाए responsive ad unit का use करे।

Responsive Ad unit यूसर के डिवाइस पर automatic एडजस्ट हो जाती है है। इससे यूसर को ads देखने मे कोई परेशानी नहीं होगी। अगर ad resposive नहीं होगा तो वह डिवाइस की स्क्रीन पर फिट नहीं होगा और reader को अच्छे से दिखाई नहीं देगा।

3. Limited Ads

काफी bloggers अपनी website पर एक ही post मे काफी सारे ads लगा देते है जिससे reader को information से ज्यादा ads दिखाई देती है। इससे user को परेशानी होती है और काफी सारे लोग वैबसाइट से move-on कर जाते है।

इसीलिए आप जहा तक हो सके अपने post मे 3-5 ads को न लगाए। इससे थोड़ी बहुत CPC भी improve होगी, और website देखने मे थोड़ी अच्छी लगेगी। इसके साथ ही ब्लॉग की loading speed भी बढ़ेगी।

WordPress की स्पीड कैसे बढ़ाये इसके लिए मैंने पहले से ही पोस्ट लिख रखी है।

4. Website Layout

Website की डिजाइन भी माइने रखती है। अगर आपका ब्लॉग responsive नहीं है और ads सही से show नहीं हो रहे है तो आपको अच्छे क्लिक नहीं मिलेंगे। साथ ही user भी content नहीं पढ़ पाएगा।

पहले मैंने एक पोस्ट लिखी थी जिसमे मैंने बताया था की “Blog के लिए high quality content कैसे लिखे“। लेकिन अगर आपके website की डिजाइन ही बहुत खराब है और reader को वो content पढ़ने मे परेशानी हो रही है तो आपकी मेहनत बेकार है।

5. Experiment with A/B Tests

अपने ब्लॉग पर समय-समय पर अलग-अलग जगह पर ads लगाकर try करे। फिर जिसमे आपसे सबसे बेस्ट result मिले उसे try करे।

6. Search Engine Optimization

Blog या website पर ज्यादा कमाई के लिए ज्यादा ट्रेफिक होना भी जरूरी है। ज्यादा traffic के लिए आपको आपके ब्लॉग का SEO (search engine optimization) करना पड़ेगा।

Writing and SEO के लिए 5 उपयोगी टूल के बारे मे जाने (Hindi मे पढ़े)

7. Lift up the CPC

बढ़िया CPC के लिए high CPC वाले keywords का post मे use करे। High CPC वाले keyowrds को आप Google Keyword Planner से ढूंढ सकते है।

TExt and display ads

Text and display ads | Google Adsense Optimization Kaise Kare - Full Guide in Hindi

इसके अलावा अपनी पोस्ट मे Text and Display टाइप के ads का use करे। इंका CPC ज्यादा होता है। CPC होने के साथ ही Click Rate भी बढ़ती है और revenue भी ज्यादा होती है।

8. User Engagement

User Engagement पर focus करे। आपको ये पता होना चाहिए की user आपके ब्लॉग से क्या अपेक्षा रखते है। user goal को ध्यान मे रखते हुये post को लिखे ताकि लोगो का intrest आपके blog मे बना रहे।

इसके लिए आप blog पर Push Notification और Email Subcribe Widget जरूर use करे। अगर आपने अभी तक Push Notification अपने ब्लॉग पर enable नहीं किया है तो How to add Push Notification on WordPress पोस्ट को पढे। इसमे मैंने complete AtoZ बताया है।

9. Use Link Ads

अपने ब्लॉग मे link ads का भी use करे। इससे ads पर क्लिक होने की संभावनाएं बढ़ जाती है। Link Ads काफी हद तक आपके post से related ads ही शो करता है। मैं इसे above the content और पोस्ट के अंदर use करता हु।

Google Adsense Optimization Kaise Kare - Best 15 Tips 1

10. Follow Webmaster Guidelines

Google Webmaster Guidelines को हमेशा follow करे। जिसमे से जो महत्वपूर्ण है वो निम्न प्रकार है –

इन्हे कभी न करे –

  • Auto generated content को पोस्ट नहीं करे।
  • Virus, Torjan, स्पाइ जैसी चीजों को share नहीं करे।
  • Auto click को कभी use नहीं करे।
  • Hidden Link या Keywords का इस्तेमाल ना करे।
  • बेवजह ज्यादा keywords का use नहीं करे जिसका आपके पोस्ट से कोई देना देना नहीं है।
  • Unwanted Rich Snippets Markup जैसे रेटिंग आदि use न करे जहा जरूरत नहीं हो।

11. Mobile Responsive Site

आज के समय मे ज़्यादातर लोग आपकी website पर mobile से visits करते है। ज़्यादातर organic traffic मोबाइल से ही आती है। इसीलिए आप अपनी website को mobile friendly बनाए।

अपनी website के mobile frindly होने का test करने के लिए यहा Google के Mobile Frindly Test ट्राइ करे।

12. Adsense Optimized Theme

बहुत सारी themes Google Adsense Optimized होती है। लेकिन अगर आप एक old theme उसे कर रहे है जिसमे Adsense Ads अच्छे से फिट नहीं होते है तो आप अपनी theme change करे।

अगर आप एक paid theme की तलाशा मे है जो fast loading हो, responsive हो, हल्की हो और well designed हो तो आप MyThemeShop, HappyThemes और Genesis की theme try कर सकते है।

READ THIS: Best Google Adsense Alternatives in India

13. Ad limit per Page

किसी webpage पर जरूरत से ज्यादा ads रखने से CPC कम होगी। इसलिए जरूरत से ज्यादा ads न रखे।

छोटे articles मे start और end मे ads रखे। वही बड़े articles मे start, end और बीच मे ads रखे। 1000 words पर 5 ads लगाए और ध्यान रखे की ads के बीच space हो।

14. Adsense Ads Placement

Adsense Ads का सही जगह पर placement होना जरूरी है। sidebar मे एक ads रखे, पोस्ट के title के जस्ट नीचे एक ads रखे। साथ ही intrestial ads का भी use करे।

15. Earn Organic Traffic

Organic traffic मतलब वह ट्रेफिक जो search engine से आती है वह website के लिए बहुत फायदेमंद होती है। साथ ही organic traffic के ज्यादा होने से earning बढ्ने से chances भी बढ़ जाते है। इसलिए SEO पर ध्यान दे और organic traffic को बढ़ाए।

इसके अलावा आपका experience ही सबसे बेस्ट Adsense optimization है। क्योकि समय के साथ आपको पता चलता जाएगा की site के लिए Google Adsense Optimization कैसे करना है और किस तरह से Adsense Ads Optimize करे।

अगर आपको हमारा ये आर्टिक्ल “Google Adsense Optimization Kaise Kare [in Hindi]”पसंद आया तो” इसे social media पर share जरूर करे। अगर आपके मन मे कोई सवाल हो तो comment मे पूछ सकते है।

You May Also Like

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *