Bootable Pendrive कैसे बनाए?

Computer में Windows install करने के लिए सबसे पहले Windows ISO file download करके Bootable pendrive create करनी होती है। इस bootable pendrive की सहायत से कम्प्युटर में Windows Oprating system install कर सकते है। पर ये bootable pendrive कैसे बनाते है? आखिरकार safe and easy तरीके से pendrive को bootable कैसे कैसे बनाये?

पहले लोग CD/DVD की मदद से computer में Windows install किया करते थे। इन सीडी/डीवीडी में पहले से Windows burn की हुई होती थी। आप जैसे ही computer repair shop पर जाकर कहते थे की मुझे नया Windows डलवाना है या laptop formate करवाना है तब वह इन CD/DVD की मदद से आपके laptop या computer में new Windows install कर देते थे।

पर आजकल इंटरनेट का जमाना है। हर काम घर बैठे आसानी से किया जा सकता है। इसके लिए आपको कोई अलग से पैसे कर्च करने की जरूरत नहीं होती है।

आप अपने कम्प्युटर या लैपटाप में pendrive की मदद से आसानी से Windows को install कर सकते है। इसके लिए नीचे दिये गए तरीके को अपना सकते है।

Bootable Pendrive कैसे बनाए?
Bootable Pendrive कैसे बनाए?

Booting क्या होता है?

जब laptop या computer को शुरू किया जाता है तो शुरुआत में कम्प्युटर का सिस्टम सभी hardware और कम्प्युटर में मौजूद oprating system को लोड करता है। इसी को booting या boot होना कहा जाता है।

कम्प्युटर को जब ऑन किया जाता है तो वह सबसे पहले कम्प्युटर से जुड़े सही जरूरी hardware को चेक करता है। फिर ROM में installed OS को लोड करता है। उदाहरण के लिए अगर आपके कम्प्युटर में पहले से Windows 10 या Windows 11 मौजूद हो तो उसे शुरू किया जाता है।

इस पूरी प्रोसैस को बूटिंग कहा जाता है। अगर आपके कम्प्युटर के hardware या software में कोई दिक्कत हो तो कम्प्युटर शुरू नहीं होता है।

Boot कैसे काम करता है?

Bootable बनाने से तात्पर्य “boot करने में सक्षम” से है। कम्प्युटर को जब on किया जाता है तो उसके हार्ड ड्राइव या SSD में मौजूद OS जैसे Windows, Linux, Mac इत्यादि लोड होते है। ये सभी ओएस कम्प्युटर के secondary storage में ही सेव होते है जैसे की कोई फ़ाइल। ये हार्ड ड्राइव चलने में काफी स्लो होते है। इसलिए RAM का इस्तेमाल किया जाता है। RAM फास्ट होती है और काफी जल्दी काम करती है।

जब कम्प्युटर ऑन होता है तो सबसे पहले BIOS(Basic Input Output System) लोड होता है जिसमें आपको आपके कम्प्युटर निर्माता कंपनी का logo दिखाई देता है। ये BIOS छोटे-छोटे प्रोसैस को शुरू करता है जैसे की हार्ड ड्राइव में किसी खास जगह पर saved ओएस इत्यादि।

एक बार ओएस के लोड होने के बाद छोटे-छोटे background प्रोसैस होते रहते है। इसी पूरी प्रोसैस को booting कहा जाता है।

Bootable Pendrive कैसे बनाए?

पहले सीडी/डीवीडी को bootable बनाकर रखा जाता है मगर आज समय के साथ यह सब बादल गया है। क्योकि सीडी/DVD काफी धीमी होती थी और आजकल इंका प्रचलन भी कम हो गया है। इसी वजह से आजकल pendrive का इस्तेमाल किया जाता है।

Pendrive को bootable बनाने के लिए फ्री software rufus का इस्तेमाल करेंगे। Rufus से pendrive को bootable बनाने के लिए निम्न steps को follow करें –

1. Rufus Application Download करें

Rufus एक फ्री टूल है जिसकी मदद से Linux / Windows bootable pendrive बनाई जा सकती है। इसे https://rufus.ie/ से download करें।

2. Windows ISO file download करें

Bootable pendrive बनाने के लिए उसकी ISO फ़ाइल download करनी होगी। Windows 11 ISO file download के लिए यह पोस्ट पढे

3. Pendrive insert करें

एक खाली pendrive को computer में insert करें। इसके लिए आप न्यूनतम 8 GB की pendrive जरूर ले। अगर आपके पास इससे अधिक क्षमता की pendrive हो तो उसे इस्तेमाल करें।

4. ISO file सेलेक्ट करें और Start बटन दबाये

Rufus software को run करके आपके द्वारा इन्सर्ट की गयी pendrive का चयन करें, ISO फ़ाइल का चयन करें और Start बटन को प्रैस करें।
Bootable Pendrive तैयार होने में 10 minutes तक का समय लग सकता है। इसके Sucess मैसेज आने के बाद आप pendrive को निकाल सकते है और अब ये इस्तेमाल के लिए तैयार है।

Tools:

  • Rufus Software
  • Computer
  • Pendrive

इस तरह आप Windows / Linux की bootable pendrive बना सकते है। इसमें आपको किसी खास टेक्निकल जानकारी की जरूरत नहीं होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.